सवाई पद्मनाभ सिंह कौन है ? Sawai Padmanabh Singh Biography

Sawai Padmanabh Singh
Sawai Padmanabh Singh

सवाई पद्मनाभ सिंह कौन है ?

जैसे की आपलोगो ने पढ़ा होगा या कहानियो मै सुना की प्राचीन भारत में राजा महाराजा प्रशासन हुआ करता था। लेकिन अब ऐसा देखने को बोहोत कम मिलता है। लोग इनकी राजशाही की चर्चा किया करते थे क्युकी इनके पास कई हज़ार एकड़ जमीन और अपरंपार सोना चांदी और रत्न भी हुआ करते थे। ये राजशाही पहले से ही चली आ रही है। हलकी भारत में राजशाही भले ही खत्म होती गई है लेकिन उनकी वंश अभी भी है भारत के कुछ हिस्सों मै आपको आज भी कुछ राजशाही परिवार देखने को मिल जायेंगे उन्ही मैं से एक हैं महाराजा पद्मनाभ सिंह जी जोकि जयपुर के राजघराने से तालुक रखते है। राजा पद्मनाभ सिंह राजघराने के इकलौते वंश हैं। कहा जाता है की पदमनभ सिंह का परिवार खुद को श्री राम के वंश बताता है।चलिए जानते राजा Sawai Padmanabh Singh और उनके कुछ इतिहास को।

पूरा नाम सवाई पद्मनाभ सिंह
निक नाम पाचो ( Paacho )
उम्र 23 वर्ष
जन्म तारिक़ 2 July 1998
पहचान जयपुर शाही परिवार के 303वे वंशज वा वर्त्तमान राजा
माँ का नाम दिया कुमारी ( BJP विधायक )
पिता का नाम नरेंद्र सिंह
नाना का नाम भवानी सिंह
भाई का नाम लक्ष्यराज सिंह
बहन का नाम गौरी सिंह
शिक्षा Mayo College Ajmer और Millfield Somerset England
पेशा ( Occupation )1. INDIAN Polo Player ( He Led The Country’s National Polo Team )
2. King Of Jaipur ( Youngest King of Jaipur )
3. Traveller
4. Model
पसंदीदा खाना ( cuisine )लाल मांस, जयादातर Traditional Home Food
Padmanabh Singh Short bio
padmanabh singh kon hai
Padmanabh singh

Sawai Padmanabh Singh History

पदमनाभ सिंह का जन्म 2 July 1998 मै Diya Kumari और Narendra Singh को हुआ। Diya Kumari जोकि महाराजा Bhawani Singh की इकलौती संतान थी इस कारण भवानी सिंह सिंह अपनी बेटी दिया कुमारी के बड़े बेटे पद्मनाभ सिंह को गोद ले लिया । दिया कुमारी  के एक छोटे बेटे और एक बेटी भी भी हैं जिनका नाम  LakshyaRaj Singh, Gauri Singh

दिया कुमारी भारतीय राजनीति मै भी शमिल रहती है वह Jaipur से बीजेपी विधायक भी हैं।

महाराजा भवानी सिंह जी इस वंशज के आखिरी महाराज थे। उनके पिता सवाई मान सिंह जी ने तीन शादी की थी जिसमे से वह उनके तीसरी पत्नी के बेटे थे।

padmanabh singh bIOGRAPHY
Padmanabh Singh BIOGRAPHY

2011 मै महराजा भवानी सिंह की मृत्यू के बाद पद्मनाभ सिंह को 4 साल की उम्र  Unofficially महाराज की पदत्ती सौप दी गई थी और जब वह 18 साल के बालिक हुए हुए तो उन्हे राज तिलक कर उन्हें महाराजा की पद्धति सौंपी गई। इसी के साथ मै जयपुर के सबसे युवा महाराज बन गए।

पद्मनाभ सिंह शिक्षा ( Education )

पद्मनाभ ने अपनी शुरूआती पढ़ाई मायो कॉलेज ( Mayo College ) Ajmer से की उसके बाद उन्होने आगे की पढ़ाई Millfield स्कूल से की जोकि Somerset England मै स्थित है।

padmanabh singh POLO PLAYER
padmanabh singh bIOGRAPHY

Sawai Padmanabh Singh Career

एक Model, एक Polo Player और Traveller भी हैं। वह देश को Polo के खेल मै अंतराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिनिधित्व कर चूके हैं। और वह अपने खेल की वजह चर्चे मै रहते है उन्होंने अपने खेल से भी अपनी एक अलग पहचान बनाई है।

साथ ही वह बताते हैं कि वह Travelling पर सबसे ज्यादा खर्च करते पद्मनाभ लगभग 20 देशों से ज्यादा ट्रैवेल कर चुके हैं और वह चाहते है। की वह देखना चाहते है दुनिया के अलग अलग Cultures को उनके रहन सहन सब को वह उनसे सीखते है जो चीज़े उन्हे अलग और अछी लगती है। वह कहते है की जेसे की अभी मै जवान हूं तो मेरी उम्र अभी सीखने की ही है तो मैं हमेशा चहता हूं लोगो से सिखने उनसे बात करना।

padmanabh singh IN HINDI
padmanabh singh IN HINDI

Sawai Padmanabh Singh 2015 मै जब वह England मै थे वहां से उन्होंने Competitive Polo खेलना शूरू किया। वहां वह Guards Polo Club के Member रहे।

पद्मनाभ सिंह ने Hurlingham Park मै Indian National Polo Team को Lead भी लीड किया।

  • Youngest winner Of Indian Open Polo Cup
    • Youngest Member History of World Cup Polo
padmanabh singh FAMILY
padmanabh singh FAMILY

पद्मनाभ सिंह की लाइफस्टाइल

पद्मनाभ राम निवास महल मै रहा करते है । उनका वहा निजी आलीशान अपार्टमेंट भी है इसी महल मै उनके दादा रहा करते थे। उनके निजी अपार्टमेंट मै एक बेडरूम साइड बाथरूम Dressing Room, Pool, Garden, Dining Room, Kitchen जैसी अनेकों सुविधाएं उपलब्ध हैं।

पद्मनाभ को Traveling का भी बोहोत शौक है। वह अक्सर अपने Instagram पर अलग अलग देशों को Visited Photos Post करते रहते हैं। उन्होंने लगभग हर महंगे से महंगा देश घूम रखा है।

पद्मनाभ अपने lifestyle को Enjoy करने के साथ ही वह Charity के कामों मै भी बढ़ चढ़ कर हिस्सा लेते हैं।

दादा मानसिंह के जाने के बाद सब कुछ पद्मनाभ ने ही समभाला है। 2011 मै परिवार की कुल संपत्ति 621.8 Million थी यानी 43 अरब रुपए थी जो आज बढ़कर 48 अरब रुपए हो चुकी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here