ऋतुराज गायकवाड़ की जीवनी| Rituraj Gaikwad Hindi Biography, Career, IPl, Stats, Batting, Cast

rituraj gaikwad hindi biography

ऋतुराज गायकवाड़ एक भारतीय क्रिकेटर है जो घरेलु क्रिकेट में महाराष्ट्र के लिए और इंडियन प्रीमियर लीग में चेन्नई सुपर किंग्स के लिए खेलते है| उन्होंने जुलाई 2021 में भारतीय क्रिकेट टीम के लिए अंतरास्ट्रीय क्रिकेट में भी पदार्पण किया| ऋतुराज गायकवाड़ घरेलु क्रिकेट से निखर कर आने वाले भारत के जाने-माने क्रिकेटर में से एक है इनको क्रिकेट जगत में दाहिने हाथ के बैट्समैन के रूप में जानते है| तो चलिए जानते है ऋतुराज गायकवाड़ के जीवन के बारे में – Rituraj Gaikwad Hindi Biography, Career, IPl, Stats, Batting, Cast

Rituraj Gaikwad century in IPL :-

चेन्नई सुपर किंग्स के बल्लेबाज ऋतुराज गायकवाड़ ने आईपीएल 2021 में अबू धाबी में राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ नाबाद 101*(60) रन की पारी के साथ अपना पहला शतक बनाया|  आरआर द्वारा पहले गेंदबाज़ी चुने जाने पर पहले बल्लेबाजी करने उतरे गायकवाड़ ने सीएसके की पारी के बीच में अपना अर्धशतक पूरा करने के बाद, गायकवाड़ ने अपनी को गति दी और पुरे मैदान में आरआर गेंदबाजों की धुनाई की|

गायकवाड़ ने पारी की आखिरी गेंद पर अपना शतक पूरा किया, उन्होंने आखिरी ओवर में आखिरी गेंद में मुस्ताफ़िज़ुर रहमान को छक्का लगाकर अपना शतक पूरा किया | उनके इस शतक में 9 चौके और 5 छक्के शामिल थे|  

Rituraj gaikwad Scored Century in IPL
Rituraj Gaikwad scored his first century in IPL

जन्म और शुरवाती जीवन(Birth, Early Life) :-

ऋतुराज गायकवाड़ का जन्म 31 जनवरी, 1997 को महाराष्ट्र के पुणे शहर में हुआ था| उनके पिता का नाम दशरथ गायकवाड़ है और वो एक पूर्व रक्षा अनुसधान विकास अधिकारी है| तथा उनकी माता का नाम सविता गायकवाड़ एक प्राइमरी स्कूल की अध्यापिका है| एक संयुक्त परिवार में पले-बढे, ऋतुराज गायकवाड़ कई चचेरे भाइयो के साथ बड़े हुए, जिनमे से किसी ने भी खेलो में भाग नहीं लिया था| इन सबके बावजूद, ऋतुराज के परिवार ने उन्हें वह खिलाडी बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई, जो वह आज है| 

ऋतुराज ने 5 साल की उम्र में लेदर बॉल से क्रिकेट खेलना शुरू कर दिया था| ऋतुराज जब छोटे थे तो वो नेहरू स्टेडियम में न्यूजीलैंड और ऑस्ट्रेलिया के बीच हो रहे मैच को देखने गए थे| वह पर उन्होंने ब्रेंडन मैकुलम को स्कूप शॉट खेलते हुए देखा, तभी से उन्होंने भारतीय टीम के लिए खेलने का मन बना लिया| 

हालाँकि, वो अभी सिर्फ 6 साल के एक छोटे बच्चे थे इसीलिए उनके माता-पिता ने उन्हें अकादमी जाने से मन कर दिया| लेकिन जब वो 11 साल के हुए तो उनके पिता ने उनका दाखिला पुणे में वेंगसरकर क्रिकेट अकादमी में करवा दिया|  वेंगसरकर अकादमी  अभी उनके विकास में एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है, जब भी उन्हें अभ्यास करने की आवश्यकता होती, उनकी अकादमी हमेशा उनका स्वागत करती है| 

Rituraj Gaikwad in Ipl :-

घरेलु सर्किट में सफलता के बाद सफ़ेद और लाल गेंद दोनों के क्रिकेट में बहुत सारे रनो के साथ, उन्हें 2018 एसीसी इमर्जिंग टीम एशिया कप के लिए चुना गया था| टूर्नामेंट में ऋतुराज गायकवाड़ ने चार पारियो में सिर्फ एक अर्धशतक के साथ 119 रन बनाये| 

ऋतुराज गायकवाड़ के घरेलु प्रदर्शन ने उन्हें आईपीएल में अपना पहला अनुबंध प्राप्त करने में मदद की क्योकि चेन्नई सुपर किंग्स ने 2019 सीजन के लिए युवा खिलाडी को 20लाख में ख़रीदा| ऋतुराज ने कभी भी आईपीएल में चुने जाने की उम्मीद नहीं की थी| हालाँकि उस सीजन(IPL 2019) में उन्हें एक भी मैच में खलेने का मौका नहीं दिया गया| 

आईपीएल(2020) के अगले सीजन में उन्हें खेलने का मौका मिला जहा पर उन्होंने अपनी टीम को निराश नहीं किया| इस सीजन में उन्होंने 6 मैचों में 204 रन बनाये जिसमे 3 अर्धशतक शामिल थे| इस सीजन के दमदार प्रदर्शन पर उन्हें अगले सीजन में भरपूर मौका मिला जहा पर उन्होंने फिर से किसी को निराश नहीं किया|

gaikwad quotes
Playes for CSK

अभी तक आईपीएल(2021) में ऋतुराज ने 12 मैचो में 508 रन बनाये है जिसमे 6 अर्धशतक और 1 शतक शामिल है| आईपीएल(2021) के अभी कुछ मैच और बाकि है आगे की जानकारी हम अपडेट कर देंगे|

ऋतुराज गायकवाड़ बैटिंग(Rituraj Gaikwad Batting) :-

ऋतुराज गायकवाड़ ने अपने अंडर-19 दिनों के दौरान खूब सुर्खिया बटोरी, 2014-15 कूच बिहार ट्रॉफी में दूसरे  सबसे ज्यादा स्कोर करने वाले खिलाडी बने| उन्होंने 6 मैचों में तीन शतक और एक अर्धशतक के साथ 826 रन बनाये| 

उसी सीजन  में उन्होंने 2015 में महाराष्ट्र आमंत्रण टूर्नामेंट में 522 रन की साझेदारी की और एक मैच में  तिहरा शतक भी बनाया| उनके प्रदर्शन ने उन्हें 2016 अंडर-19 क्रिकेट विश्व कप के लिए भारत अंडर-19 संभावित में चयनित होने में मदद की|  हालाँकि उनका सिलेक्शन वर्ल्ड कप में नहीं हो पाया| 

उस झटके के बावजूद ऋतुराज गायकवाड़ ने घरेलु क्रिकेट में खुद को साबित कर दिया की वह अब कहा है| अगले सीजन के बिहार कूच ट्रॉफी में ऋतुराज ने फिर से प्रभावित किया क्योकि उन्होंने 7 मैचों में 875 रन बनाया जिसमे 4 शतक और 3 अर्धशतक शामिल थे| 

डोमेस्टिक करियर(Domestic Career) :-

रुतुराज ने 2016-17 में 19 साल की उम्र में महाराष्ट्र की रणजी टीम के लिए प्रथम श्रेणी में पदार्पण किया था। झारखंड के खिलाफ मैच में वरुण आरोन की गेंद से हिट होने के बाद उनका रणजी डेब्यू कम हो गया था। उन्हें सर्जरी करानी पड़ी, जिसके परिणामस्वरूप वे रणजी सीजन से बाहर हो गए।

8 सप्ताह के स्वास्थ्य लाभ के बाद, रुतुराज ने विजय हजारे ट्रॉफी में सिर्फ एक मैच खेलकर वापसी की। अगले सीजन में रुतुराज ने एक ओडीआई ओपनिंग बल्लेबाज के रूप में अपने कैलिबर की घोषणा की। युवा खिलाड़ी ने हिमाचल प्रदेश के खिलाफ सिर्फ 110 गेंदों में 132 रन बनाए, जो उनका पहला लिस्ट ए शतक था।

वह टूर्नामेंट में महाराष्ट्र के सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज थे, जिन्होंने अपने पहले 7 मैचों में 63 के औसत से 444 रन बनाए – यह सब एक डेब्यू सीज़न है! रुतुराज अगले सत्र के लिए महाराष्ट्र की रणजी टीम में नियमित बने और 10 मैचों में 342 रन बनाए।

Rituraj gaikwad with msd

हालाँकि, उनके सीमित ओवरों के प्रारूप के खेल ने पिछले सीज़न की तुलना में थोड़ा हिट किया और उनकी फॉर्म में गिरावट आई। अपनी शुरुआत को बदलने में नाकाम रहे, रुतुराज ने 2017-18 विजय हजारे ट्रॉफी में 7 मैचों में 330 रन बनाए।

2018-19 का घरेलू सत्र रुतुराज के लिए महत्वपूर्ण मोड़ था, क्योंकि रणजी और विजय हजारे ट्रॉफी दोनों में उनके प्रदर्शन ने युवा खिलाड़ी के लिए भारत ए के दरवाजे खोल दिए। रुतुराज ने 11 रणजी खेलों में 456 रन और विजय हजारे ट्रॉफी में 365 रन बनाए।

देवधर ट्रॉफी के लिए इंडिया बी टीम में नामित होने के बाद उन्हें भारत के बेहतरीन खिलाड़ियों के साथ और उनके खिलाफ खेलने का मौका मिला। रुतुराज पहले गेम में मौके को भुनाने में नाकाम रहे लेकिन फाइनल में इंडिया सी के खिलाफ 60 रनों की स्टाइलिश पारी खेली।

इंडिया A,A+(Rituraj Gaikwad Career) :-

ऋतुराज ने जनवरी 2019 में बोर्ड अध्यक्ष एकादश के लिए खेलते हुए इंग्लैंड लायंस के खिलाफ शतक बनाया था| इस पारी ने उन्हें जून 2019 में पहली बार श्रीलंका ए के खिलाफ एकदिवसीय श्रृंखला के लिए भारत ए टीम में शामिल में मदद की|

ऋतुराज गायकवाड़ ने पहले गेम में सिर्फ 136 गेंदों पर 187* रन बनाये और दूसरे गेम में 125* रन बनाए| सलामी बल्लेबाज ने द्विपक्षीय सीरीज में चार पारियो में 130 के स्ट्राइक रेट से 470 रन बनाए| 

श्रीलंका  के खिलाफ अपने असाधारण प्रदर्शन के बावजूद, ऋतुराज को शुरू में भारत ए के वेस्टइंडीज दौरे के लिए नामित नहीं किया गया था| लेकिन “भाग्य बहादुरों का साथ देता है!” पृथ्वी शॉ चोटिल होने के कारण बाहर हो गए और ऋतुराज गायकवाड़ कैरिबियन के लिए पहली उड़ान पर रूक गए| भारत ए के साथ यह उनका पहला दौरा था|    

और करीबीआई द्वीप ऋतुराज ने चार परियो में 51 की औसत से 207 रन बनाए| इस युवा खिलाडी ने दो अर्धशतक बनाए और आखिरी गेम में सिर्फ एक रन से शतक बनाने से चूक गए| 

Rituraj gaikwad centuary in A
Rituraj Gaikwad is a emerging player

Rituraj Gaikwad Stats :-

Rituraj Gaikwad Batting Stats

Rituraj Gaikwad Facts :-

. ऋतुराज गायकवाड़ ने अपने क्रिकेट करियर की शुरुवात 12 साल की उम्र में पुणे के वेंगसरकर क्रिकेट अकादमी में की थी| 

. वह कुच बिहार ट्रॉफी में लगातार 2 साल तक भारत के दूसरे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाडी थे| 

. ऋतुराज गायकवाड़ को टेनिस खेलना पसंद है और अगर क्रिकेट नहीं तो वह इस खेल में जाना चाहेंगे| 

. चेन्नई सुपरकिंग्स 2019 आईपीएल खिलाडी की नीलामी के दौरान ऋतुराज गायकवाड़  को INR 20 लाख के बेस प्राइस पर ख़रीदा|

. गायकवाड़ एक पार्ट टाइम ऑफ स्पिनर भी है|

अन्य पढ़े :-

. Kylian Mbappé का जीवन परिचय|

. Top 6 Right Wing, Left Wing, or Political YouTube Channels

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here