Neeraj Chopra Olympics 2021, Biography in Hindi

Neeraj Chopra Biography – नीरज चोपड़ा भारत के जेवेलिन थ्रो यानि की भाला फेंक खिलाडी है, जिन्होंने 7 अगस्त, 2021 को खेलो के महाकुम्भ Olympics 2021 में Gold Medal जीतकर इतिहास रच दिया| ओलंपिक्स के इतिहास में भारत को अभी तक केवल 9 स्वर्ण पदक मिले थे लेकिन नीरज चोपड़ा ने देश को 10वा गोल्ड मैडल दिला दिया है| और दोस्तों अभिनव बिंद्रा के बाद से वो ऐसे भारतीय खिलाडी है एकल स्पर्धा में गोल्ड मैडल दिलाया है|

Neeraj Chopra Biography – Career – Records – Awards – Education – Height – Age – Girlfriend and Family

नीरज चोपड़ा ने भाला फेंक खेल में इतिहास रचा और एथेलेटिक्स में मैडल जीतने वाले पहले भारीतय बने| उनकी इस कामयाबी पर न सिर्फ खेल जगत बल्कि देश का हर एक कोना आनंदित है| नीरज चोपड़ा भारतीय सेना में जूनियर कमीशंड अफसर(JCO) भी है | आज हम आपको यहाँ Neeraj Chopra Biography के बारे में सब कुछ बतायेगे जो हर किसी को जानना जरुरी है|

नीरज चोपड़ा का जन्म और परिवार( Neeraj Chopra Biography) :-

नीरज चोपड़ा का जन्म 24 दिसंबर, 1997 को भारत के हरियाणा राज्य के पानीपत शहर में हुआ था| नीरज चोपड़ा के पिता का नाम सतीश कुमार है और इनकी माता का नाम सरोज देवी है| नीरज चोपड़ा के पिताजी हरियाणा राज्य के पानीपत जिले के एक छोटे से गांव खंडरा के किसान है, जबकि इनकी माता एक हाउसवाइफ है| नीरज चोपड़ा के कुल 5 भाई बहन है, जिनमे से यह सबसे बड़े है|

नीरज चोपड़ा की शिक्षा(Neeraj Chopra Education) :-

नीरज चोपड़ा ने अपनी प्रारम्भिक पढाई हरियाणा से की है | अपनी प्रारम्भिक पढाई को पूरा करने के बाद नीरज चोपड़ा ने बीबीए कॉलेज ज्वाइन किया था और वही से उन्होंने ग्रेजुएशन की डिग्री हासिल की थी|

नीरज चोपड़ा के जैवलिन थ्रो की शुरुवात (Neeraj Chopra Struggle):-

नीरज चोपड़ा एक गरीब किसान परिवार से आते है और 11 साल की उम्र में ही नीरज मोटापे का शिकार हो गए थे| उनका वजन बढ़ता देख घर वालो ने मोटापे को कम करने के लिए नीरज को खेल-कूद का सहारा लेने की सलाह दी| जिसके बाद से वो वजन काम करने के लिए पानीपत के शिवजी स्टेडियम जाने लगे और दोस्तों एक आम भारीतय लड़के के तरह ही उनकी पहली पसंद भी क्रिकेट हुआ करती थी | लेकिन स्टेडियम में जैवलिन थ्रो की प्रैक्टिस करने वाले खिलाड़िओ को देखकर उनके मन में आया की मैं तो उसको और भी ज्यादा दूर फेंक सकता हु| और यही से नीरज चोपड़ा के मन से क्रिकेट आउट हो गया और जैवलिन थ्रो ने एंट्री ली|

नीरज चोपड़ा का करियर(Neeraj Chopra Career) :-

नीरज चोपड़ा ने 11 साल की उम्र से ही भला फेकना शुरू कर दिया था| नीरज चोपड़ा ने 2016 में एक ऐसा रिकॉर्ड बनाया जो इनके लिए काफी फायदेमंद साबित हुआ| नीरज चोपड़ा ने साल 2014 में अपने लिए एक भाला ख़रीदा था , जो 7000 रुपये का था| इसके बाद नीरज चोपड़ा ने इंटरनेशनल लेवल पर खेलने के लिए 1,00000 का भला खरीदा था| नीरज चोपड़ा ने साल 2017 में एशियाई चैंपियनशिप में 50.23 मीटर की दुरी तक भला फेंक मैच को जीता था| इसी साल उन्होंने आईएएएफ डायमंड लीग इवेंट में भी हिस्सा लिया था, जिसमे वह सातवे स्थान पर रहे थे| इसके बाद नीरज चोपड़ा ने अपने कोच के साथ काफी कठिन ट्रेनिंग चालू की और उसके बाद उन्होंने नए-नए कीर्तिमान स्थापित किये|

नीरज चोपड़ा टोक्यो ओलंपिक्स( Neeraj Chopra Olympics 2021 ) :-

फाइनल मैच जोकि 7अगस्त शाम 4:30 बजे आयोजित किया गया था| इस मैच में नीरज चोपड़ा ने शानदार प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम कर लिया है और भारत के इतिहास के पन्नो में अपना नाम दर्ज कर लिया है| इन्होने फाइनल मुकाबले में 6 राउंड में से पहले 2 राउंड में ही 87.58 की सबसे ज्यादा डिस्टेंस का रिकॉर्ड सेट कर दिया था, जिसे अगले 4 राउंड में कोई भी खिलाडी नहीं तोड़ सका| और अंत में नीरज की पोजीशन पहले नंबर पर ही बनी रही और वे स्वर्ण पदक अपने नाम कर गए|

जैवलिन थ्रो एथलिट नीरज चोपड़ा ने बुधवार को टोक्यो ओलंपिक्स में परफेक्ट जैवलिन थ्रो कर फाइनल में अपनी जगह बनाई और ट्रैक एंड फील्ड में ओलिंपिक का पहला मेडल दिलाने के लिए अपनी दावेदारी को प्रस्तुत किया| नीरज चोपड़ा 86.65 मीटर के साथ क्वालिफिकेशन में टॉप में रहते हुए ओलिंपिक फाइनल में अपनी पोजीशन बनाने वाले पहले इंडियन जैवलिन प्लेयर बने| जिसके कारण नीरज चोपड़ा से देश को गोल्ड मेडल की आस जगी|

टोक्यो ओलंपिक्स में गोल्ड मैडल जीतने के बाद नीरज चोपड़ा पर अवार्ड्स की बारिश होने लगी| हरियाणा सरकार ने नीरज चोपड़ा को 5 करोड़ जबकि BCCI ने 1 करोड़ रुपये देने का घोषणा किया है|

नीरज चोपड़ा द्वारा बनाये गए रिकार्ड्स(Neeraj Chopra Records) :-

  • साल 2012 में लखनऊ में आयोजित हुए अंडर-16 नेशनल जूनियर चैंपियनशिप में नीरज चोपड़ा ने 68.46 मीटर भाला फेंक कर गोल्ड मेडल को हासिल किया था|
  • नेशनल युथ चैंपियनशिप में नीरज चोपड़ा ने साल 2013 में दूसरा स्थान हासिल किया था और उसके बाद उन्होंने आईएएएफ वर्ल्ड युथ चैंपियनशिप में भी पोजीशन बनायीं थी|
  • 2015 में नीरज चोपड़ा ने इंटर यूनिवर्सिटी चैंपियनशिप में 81.04 मीटर थ्रो फेंककर एज ग्रुप कर रिकॉर्ड अपने नाम किया था|
  • नीरज चोपड़ा ने साल 2016 में जूनियर चैंपियनशिप में 86.48 मीटर भाला फेंक कर नया रिकॉर्ड स्थापित किया था और गोल्ड मैडल अपने नाम किया था|
  • 2016 में साउथ एशियन गेम्स में नीरज चोपड़ा ने पहले ही राउंड में 82.23 मीटर की थ्रो फेंक कर गोल्ड मैडल प्राप्त किया था और इसी साल वर्ल्ड अंडर-20 चैंपियनशिप में भी गोल्ड मेडल अपने नाम किया |
  • 2017 में आयोजित एशियन चैंपियनशिप में नीरज चोपड़ा ने गोल्ड मैडल जीतकर एक नया कीर्तिमान स्थापित किया था
  • 2018 में गोल्ड कॉस्ट में आयोजित कामनवेल्थ गेम्स में नीरज चोपड़ा ने 86.47 मीटर भाला फेंका कर एक ओर गोल्ड मेडल अपने नाम किया था |
  • राष्ट्रीय युवा चैंपियनशिप रजत पदक 2018 में ही नीरज चोपड़ा ने जकार्ता एशियन गेम में 88.06 मीटर भाला फेका और गोल्ड मेडल जीतकर भारत का नाम रौशन किया था |
  • राष्ट्रीय युवा चैंपियनशिप रजत पदक नीरज चोपड़ा एशियन गेम्स में गोल्ड मैडल प्राप्त करने वाले पहले इंडियन जैवलिन थ्रोअर है| इसके अलावा एक ही साल में एशियन गेम और कामनवेल्थ गेम में गोल्ड मैडल हासिल करने वाले नीरज चोपड़ा दूसरे खिलाडी है | इसके पहले साल 1958 में मिल्खा सिंह द्वारा यह रिकॉर्ड बनाया गया था|

नीरज चोपड़ा अवार्ड(Neeraj Chopra Awards) :-

. राष्ट्रीय जूनियर चैंपियनशिप गोल्ड मैडल

. राष्ट्रीय युवा चैंपियनशिप रजत पदक

. तीसरा विश्व जूनियर अवार्ड

. एशियाई जूनियर चैंपियनशिप रजत पदक

. एशियन एथलेटिक्स चैंपियनशिप गोल्ड मैडल

. एशियाई खेल चैंपियनशिप स्वर्ण पदक

. अर्जुन अवार्ड फॉर एथेलेटिक्स

. गोल्ड मैडल जीतने पर हरियाणा सरकार द्वारा 5 करोड़ का पुरस्कार |

. गोल्ड मैडल जीतने पर BCCI द्वारा 1 करोड़ का पुरस्कार |

अन्य पढ़े :-

. PV Sindhu Biography in Hindi | PV Sindhu Olympics

. Mirabai Chanu Olympic 2021 | Mirabai Chanu Biography

. Bhishma Pitamah in Hindi | कौन थे भीष्म पितामह ?

Leave a Comment