अवनि लेखरा जीवन परिचय, Avani Lekhara Hindi Biography

avni lekhara hindi biography

Anvi Lekhara Hindi Biography – टोक्यो पैराओलिम्पिक्स खेलो में राजस्थान की शूटर Avani Lekhara ने गोल्ड मैडल इतिहास रच दिया है|  उन्होंने महिलाओ की १० मीटर Air Rifle Standing SH-1 स्पर्धा में जीत दर्ज करते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया है| उनके इस जीत पर पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम अशोक गहलोत ने बधाई दी है| Avani Lekhara ने नवंबर 2019 में एक इंटरव्यू में कहा था की वो टोक्यो में मैडल जीतना चाहती है|

पूरा नाम अन्वी लेखारा
जन्म 1 नवंबर, 2001
पिता का नाम प्रवीण लेखारा
माता का नाम स्वेता लेखरा
शिक्षा लॉ की पढाई – University of Rajasthan
खेल शूटिंग
निवास स्थान जयपुर, राजस्थान
आइडल अभिनव बिंद्रा
उपलब्धि गोल्ड मैडल – Tokyo ParaOlympics 2021

अवनि लेखरा पैराओलिम्पिक्स(Avani Lekhara Paraolympics) :-

Avani Lekhara इस इवेंट के क्वालिफिकेशन राउंड में 7वे स्थान पर रही थी| फाइनल में उन्होंने शानदार प्रदर्शन किया और गोल्ड मैडल जीता|  नौ राउंड के इस मुकाबले में अवनि को चीनी एथलीट सी झांग से कड़ी टक्कर का सामना करना पड़ा| झांग ने क्वालिफिकेशन राउंड में रूप पोजीशन हासिल की थी और वो इस मुकाबले में गोल्ड की प्रबल दावेदार थी| हालाँकि Avani Lekhara Hindi ने अपने अचूक निशानों के दम पर झांग को मात देकर गोल्ड मैडल अपने नाम कर लिया| साल 2016 में हुए रियो ओलंपिक में भी अवनी लेखरा का डंका बजा था। रियो ओलंपिक में खेले गए महिलाओं की 10 मीटर एआर स्टैंडिंग एसएच-1 उन्होंने गोल्ड मेडल अपने नाम किया था।

avni lekhara win gold

कौन है अवनि लेखरा(Who is Avni Lekhara) :-

अवनि लेखरा एक भारतीय महिला पैरा निशानेबाज़ है. राजस्थान के जयपुर की रहने वाली Avani Lekhara का जन्म 8 नवंबर, 2001 को हुआ था| इनके पिता का नाम प्रवीण लेखरा है और माता का नाम स्वेता लेखरा है|  Avani आज जिस मुकाम पर है, उसके पीछे उनके पिता का बहुत बड़ा हाथ है.

अवनि लेखरा को प्राप्त शिक्षा :-

अवनि लेखरा ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा अपने जन्मस्थली जयपुर के एक विश्विद्यालय में प्राप्त किया| इनका मन पढाई-लिखाई में पहले से ही लगता था. या अपने शुरुवाती समय में एक वकील बनना चाहती थी, जिसके लिए इन्होने स्नातक की डिग्री प्राप्त की और स्नातक की डिग्री के साथ-साथ इन्होने राजस्थान विश्वविद्यालय से एलएलबी की शिक्षा प्राप्त की.

बाद में इनका एक एक्सीडेंट हुआ, जिसके कारण इनका यह करियर पूरी तरह से समाप्त हो गया और यह स्वयं को कुछ भी करने के योग्य न समझती थी, परन्तु इनके पिता ने इनके साहस को बांधे रखा और इन्हे पैरालम्पिक खेल में जाने का सलाह दिया।

11 की उम्र में एक्सीडेंट :-

जयपुर में जन्मी Avani Lekhara की जिंदगी में 2012 में एक बहुत बड़ा मोड़ आया. Avani Lekhara जब 11 साल की थी, तब एक कार एक्सीडेंट में उनकी रीढ़ की हड्डी में गंभीर चोट आयी थी. इसके बाद वो हमेशा के लिए व्हीलचेयर पर आ गयी| यह समय उनके लिए बहुत ही कठिन था लेकिन उन्होंने कभी हार नहीं मानी और प्रयास करती रही| हालाँकि उन्होंने अपने इस कमजोरी को कभी आड़े नहीं आने दिया और अपनी पढाई पर ध्यान देना शुरू कर दिया| 

नहीं सीखा कभी हार मानना :-

जैसा की हमने आपको बताया की अवनि लेखरा वर्ष 2012 में एक सड़क दुर्घटना का शिकार हो गयी. इन्होने इस घटना के बाद परिवार के अन्य सदस्यों से मिलना बंद कर दिया और एक कमरे में स्वयं को बंद करके अकेले ही रहना पसदं करने लगी. बाद में इनके पिता के द्वारा इन्हे समझने के बाद घर से बाहर निकली।

इस घटना के बाद वो पूरी तरह से व्हीलचेयर पर आ गयी या खड़ा होने या चलने में असमर्थ है. हालाँकि अवनि ने दुर्घटना के बाद कुछ ही समय में स्वयं को कुछ न करने का योग्य नहीं समझा परन्तु उनके पिता के समझाने के बाद उन्होंने अपनी पूरी हिम्मत जूटा ली और इन्होने अपने दिव्यांग होने पर कभी भी अफ़सोस नहीं किया| अवनि ने अपने शूटिंग के करियर को शुरू के लिए अपनी माँ की बखूबी साथ पाया और प्रत्येक प्रतियोगिता में अपने माँ के साथ जाती थी|

2015 में शुरू की शूटिंग :-

Avani Lekhara अपने पढाई पर ध्यान देती थी और उनके पिता चाहते थे की वो खेल पर भी ध्यान दे. उनके पिता ने उनसे कहा की वो शूटिंग और तीरंदाज़ी दोनों में कोशिश कर और फिर कोई एक चुन ले. अतः उनके पिता ने शूटिंग और तीरंदाजी दोनों में ले गए थे और उन्होंने दोनों की कोशिश की. पहली बार राइफल पकड़ने के बाद उन्हें शूटिंग में ज्यादा जुड़ाव महसूस हुआ.

हालाँकि उनकी शूटिंग चुनने की  एक वजह अभिनव बिंद्रा भी है. अवनि ने अभिनव बिंद्रा की बायोग्राफी ‘A Shot At History ’ पढ़ी, जिसके बाद शूटिंग के प्रति वो और ज्यादा गंभीर हो गई. अवनि ने 2015 में जयपुर के जगतपुरा स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स से शूटिंग की ट्रेनिंग शुरू की. 

2015 में Avani Lekhara Hindi ने अपनी ट्रेनिंग शुरू की और कुछ ही महीने बाद उन्होंने राजस्थान स्टेट चैंपियनशिप में हिस्सा लिया और गोल्ड जीता. इस चैंपियनशिप के लिए अवनि ने अपने कोच से राइफल उधार ली थी. उससे कुछ महीनो बाद ही अवनि ने नेशनल चैंपियनशिप में ब्रोंज मैडल जीता.  2016 से 2020 के बीच अवनि ने नेशनल शूटिंग चैंपियनशिप में 5 बार गोल्ड मैडल जीत चुकी है.  

अवनि लेखरा को प्राप्त पुरस्कार :-

वर्ष पुरस्कार
2019 मोस्ट प्रोमिसिंग पैराओलिम्पिक एथलीट
2021 गोल्ड मेडल

पीएम नरेंद्र मोदी ने दी बधाई :-

QNA :-

Q. अवनि लिखारा कौन है ?

A. अवनि लेखरा एक पैरा ओलिंपियन शूटर है जिन्होंने टोक्यो पैराओलिम्पिक्स 2020 में गोल्ड मैडल जीता है|

Q. अवनि लेखरा किस खेल से सम्बंधित है?

A. शूटिंग

Q. अवनि लेखरा की जन्म तिथि।

A. 8 नवंबर, 2001

Q. अवनि लेखरा के पिता का क्या नाम है?

A. प्रवीण लेखरा

Q. अवनि लेखरा के माता का क्या नाम है?

A. स्वेता लेखरा

Q. क्या अवनि लेखरा विवाहित है?

A. नहीं, अवनि लेखरा विवाहित नहीं है और ना ही उनका बॉयफ्रेंड है.

अन्य पढ़े :-

. रोहित शर्मा का जीवन परिचय, About Rohit Sharma in Hindi

. National Sports Day क्यों मनाया जाता है | Major Dhyan Chand

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here